आपका परिचय

रविवार, 29 जनवरी 2012

सामग्री एवं सम्पादकीय पृष्ठ : जनवरी २०१२

अविराम  ब्लॉग संकलन :  वर्ष : १, अंक : ०५, जनवरी २०१२ 


रेखांकन : पारस दासोत  
प्रधान संपादिका : मध्यमा गुप्ता
संपादक : डॉ. उमेश महादोषी 
संपादन परामर्श : डॉ. सुरेश सपन  
फोन : ०९४१२८४२४६७ एवं ०९०४५४३७१४२ 
ई मेल : aviramsahityaki@gmail.com 


।।सामग्री।।
कृपया सम्बंधित सामग्री के प्रष्ट पर जाने के लिए स्तम्भ के साथ कोष्ठक में दिए लिंक पर क्लिक
 करें ।


अविराम विस्तारित :


काव्य रचनाएँ  {कविता अनवरत} :  इस अंक में राजेन्द्र नाथ ‘रहबर’, डॉ. पृथ्वीराज अरोड़ा, दिनेश चन्द्र दुबे,  श्रीरंग,  डॉ. नलिन, घमन्डीलाल अग्रवाल, रोहित यादव, अजय चन्द्रवंशी एवं खान रशीद ‘दर्द’ की काव्य रचनाएँ।


लघुकथाएं   {कथा प्रवाह} :  इस अंक में  भगीरथ परिहारकृष्णलता यादव, ऊषा अग्रवाल ‘पारस’, सीताराम गुप्ता, सत्य शुचि, आकांक्षा यादव एवं नन्दलाल भारती की लघुकथाएं। 


कहानी {कथा कहानी इस अंक में कमलेश भारतीय की कहानी-मैंने नाम बदल लिया है


क्षणिकाएं  {क्षणिकाएँ इस अंक में  रचना श्रीवास्तवनित्यानन्द गायेन प्रदीप गर्ग ‘पराग’ एवं टी. सी. सावन की क्षणिकाएं।


हाइकु व सम्बंधित विधाएं  {हाइकु व सम्बन्धित विधाएँ}  :  इस अंक में केशव शरण एवं मिली शर्मा के हाइकु ।


जनक व अन्य सम्बंधित छंद  {जनक व अन्य सम्बन्धित छन्द:  इस अंक में   डा. ओम्प्रकाश भाटिया ‘अराज’, पं. गिरिमोहन गिरि ‘गुरु’ व अनामिका शाक्य के जनक छंद


व्यंग्य रचनाएँ  {व्यंग्य वाण:  इस अंक में मधुर गंजमुरादाबादी की व्यंग्य कविता 'दमकल की राह ताकिए'  एवं डॉ. सुरेन्द्र प्रकाश शुक्ल का व्यन्ग्यालेख 'बड़े मियां का शौक'।


संभावना  {सम्भावना इस अंक में नए हस्ताक्षर रजनीश त्रिपाठी एवं उषा कालिया अपनी कविताओं के साथ 
अविराम विमर्श {अविराम विमर्श} : राम शिव मूर्ति यादव का आलेख  'साहित्य में पुरस्कारों की राजनीति'


किताबें   {किताबें} : इस बार कोई टिप्पणी  नहीं  


लघु पत्रिकाएं   {लघु पत्रिकाएँ} : इस बार कोई टिप्पणी नहीं  


गतिविधियाँ   {गतिविधियाँ} : पिछले माह प्राप्त साहित्यिक गतिविधियों की सूचनाएं/समाचार


अविराम के अंक  {अविराम के अंक} : अभी नया मुद्रित अंक नहीं आया 


अविराम के रचनाकार  {अविराम के रचनाकार} : अविराम के बारह  और रचनाकारों का परिचय।





।।मेरा पन्ना/उमेश महादोषी।।



  • एक बार फिर  देरी से अंक दे पाने के लिए खेद है। कुछ व्यक्तिगत कारण और कुछ मुद्रित प्रारूप में  'अविराम साहित्यिकी' के  जनवरी-मार्च २०१२ अंक को प्रेस में देने के लिए जल्दी तैयार करना पड़ा अभी संभवत: दो-तीन माह तक ब्लॉग की पोस्टिंग यूँ ही माह के आखिर तक हो पायेगी
  • अविराम के मुद्रित प्रारूप को एक स्थाई आधार देने एवं अधिकाधिक प्रसार के लिए सभी मित्रों से अनुरोध है, अपने-अपने परिचय क्षेत्र में यथासंभव ग्राहक सदस्य बनवाने में सहयोग करें। साथ ही अपना स्तरीय रचनात्मक सहयोग प्रदान करें। हमारा प्रयास रहेगा,  आपकी रचनाएँ 'अविराम' के माध्यम  से अधिकाधिक पाठकों तक पहुंचें
  • ब्लॉग  पर आपकी  समालोचनात्मक प्रतिक्रियाएं रचनात्मक चिंतन और स्तर- दोनों को ही प्रोत्साहित करती हैं, अत: ब्लॉग को पढ़कर जहाँ तक संभव हो, अपनी टिप्पणी अवश्य दर्ज करें
  • इस बार ब्लॉग पर हम 'किताबें' और 'लघु पत्रकाएँ' स्तंभों में कोई सामग्री नहीं दे पाए हैं, लेकिन आगामी अंकों में सामग्री पूर्ववत जायेगी। ब्लॉग पर प्रकाशनार्थ पुस्तक समीक्षाओं का सम्बंधित पुस्तक की एक प्रति के साथ स्वागत है।  
  • मुद्रित रूप में 'अविराम साहित्यिकी' का वार्षिक शुल्क  रुपये ६०/- तथा आजीवन सदस्यता शुल्क रुपये ७५०/- रखा गया है। वार्षिक शुल्क धनादेश द्वारा 'प्रधान संपादिका, अविराम साहित्यिकी, ऍफ़-४८८/२, गली संख्या ११, राजेंद्र नगर, रुड़की, जिला-हरिद्वार, उत्तराखंड' के पते पर भेजा जाना हैआजीवन शुल्क रुड़की पर देय 'अविराम साहित्यिकी' के नाम में जारी  रेखांकित  'मांग ड्राफ्ट' द्वारा उक्त पते पर ही भेजा जाये। कृपया किसी भी व्यकिगत नाम में कोई राशी न भेजें
  • जो मित्र 'अविराम साहित्यिकी' के 'ओरियंटल बैंक आफ कामर्स' में स्थित खाते में राशी जमा करना चाहें, वे हमसे फोन पर आवश्यक जानकारी ले सकते हैं

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें