आपका परिचय

शुक्रवार, 31 अगस्त 2012

219. श्याम सुन्दर अग्रवाल


श्याम सुन्दर अग्रवाल





जन्म  :  8 फरवरी 1950 को कोट कपूरा (पंजाब) में।

शिक्षा  :  बी.ए.।

लेखन/प्रकाशन/योगदान  :  लघुकथा, बालकथा व कविता (पंजाबी एवं हिंदी में)। ‘नंगे लोकां दा फिक्र‘ व ‘मारूथल दे वासी’ लघुकथा संग्रह पंजाबी में आपकी मौलिक प्रकाशित कृतियां हैं। ‘डरे होए लोक’, ‘ठंडी रजाई’(सुकेश साहनी), ‘आखरी सच्च’(डा. सतीश दुबे) व ‘सिर्फ इंसान’(डा. कमल चोपड़ा) लघुकथा संग्रहों का आपके द्वारा हिंदी से पंजाबी में अनुवाद प्रकाशित। इन के अतिरिक्त हिंदी से पंजाबी व पंजाबी से हिंदी में पाँच सौ से अधिक रचनाओं का अनुवाद। पंजाबी में 25 व हिंदी में 3 लघुकथा संकलनों का संपादन। नवसाक्षरों के लिए लोक कथाओं के दो संकलनों का पुनर्लेखन/संपादन। महत्वपूर्ण पंजाबी त्रैमासिक ‘मिन्नी’ का 1988 से संपादन।

सम्प्रति  :  लोक निर्माण विभाग, पंजाब से सेवा-निवृत्त उपरान्त साहित्य-सेवा में समर्पित। 

संपर्क  :  बी-।/575, गली नं. 5, प्रताप सिंह नगर, कोट कपूरा (पंजाब)-151204
दूरभाष  :  01635-222517 / 320615  मोबाइल : 09888536437
ई मेल  :  sundershyam60@gmail.com  


अविराम में प्रकाशन

मुद्रित अंक :  दिसम्बर 2011 अंक में कविता- ‘जीवन गाथा’।
ब्लॉग संस्करण  :  फरवरी 2012 अंक में कविता- ‘रिश्ते’।
                               अगस्त 2012 अंक में लघुकथा- ‘बेटी का हिस्सा’।



नोट : १. परिचय के शीर्षक के साथ दी गयी क्रम  संख्या हमारे कंप्यूटर में संयोगवश  आबंटित  आपकी फाइल संख्या है. इसका और कोई अर्थ नहीं है।
२. उपरोक्त परिचय हमें भेजे गए अथवा हमारे द्वारा विभिन्न स्रोतों से प्राप्त जानकारी पर आधारित है. किसी भी त्रुटि के लिए हम क्षमा प्रार्थी हैं. त्रुटि के बारे में रचनाकार द्वारा हमें सूचित करने पर संशोधन कर दिया जायेगा। यदि रचनाकार अपने परिचय में कुछ अन्य सूचना शामिल करना चाहते हैं, तो इसी पोस्ट के साथ के टिपण्णी कॉलम में दर्ज कर सकते हैं। यदि किसी रचनाकार को अपने परिचय के इस प्रकाशन पर आपत्ति हो, तो हमें सूचित कर दें, हम आपका परिचय हटा देंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें