आपका परिचय

शुक्रवार, 26 मई 2017

अविराम के अंक

अविराम  ब्लॉग संकलन,  वर्ष  :  6,   अंक  :  05-06,  जनवरी-फ़रवरी  2017




अविराम साहित्यिकी 
(समग्र साहित्य की समकालीन त्रैमासिक पत्रिका)
खंड (वर्ष) :  5 / अंक : 3  /  अक्टूबर-दिसम्बर  2016 (मुद्रित)

प्रधान सम्पादिका :  मध्यमा गुप्ता

अंक सम्पादक :  डॉ. उमेश महादोषी 

सम्पादन परामर्श :  डॉ. सुरेश सपन

मुद्रण सहयोगी :  पवन कुमार 



अविराम का यह मुद्रित अंक रचनाकारों व सदस्योंको 14 नवम्बर 2016  को तथा अन्य सभी सम्बंधित मित्रों-पाठकों को 18 नवम्बर 2016 तक भेजा जा चुका है। 10 दिसम्बर 2016  तक अंक प्राप्त न होने पर सदस्य एवं अंक के रचनाकार अविलम्ब पुनः प्रति भेजने का आग्रह करें। अन्य मित्रों को आग्रह करने पर उनके ई मेल पर पीडीफ़ प्रति भेजी जा सकती है। पत्रिका पूरी तरह अव्यवसायिक है, किसी भी प्रकाशित रचना एवं अन्य सामग्री पर पारिश्रमिक नहीं दिया जाता है। इस मुद्रित अंक में शामिल रचना सामग्री और रचनाकारों का विवरण निम्न प्रकार है-      


।।सामग्री।।  

अनवरत-1 (काव्य रचनाएँ)

अमर कवि निरंकार देव ‘सेवक’ (3) 
मृत्युंजय उपाध्याय (6) 
हृदयेश्वर (7) 
आनन्द तिवारी पौराणिक (8)
नारायण सिंह निर्दोष/विनोद अश्क (9) 
राजेन्द्र परदेेसी/वासुदेव उबेराय (10) 
हितेश व्यास  (11) 
आभा सिंह/चकोर चतुर्वेदी (12) 
रमेश राज (13) 

स्मरण

काफिला का सक्रिय सहयात्री - विक्रम सोनी : डॉ. सतीश दुबे (14)

आहट (क्षणिकाएँ)

डॉ. शील कौशिक/मंजू मिश्रा (18)

सवालों से सामना

न गाँव को मैं छोड़ पाया न गाँव मुझे: श्याम सुन्दर निगम (चक्रधर शुक्ल के सवालों पर) (19) 

विमर्श   

सोशल मीडिया पर हिन्दी लघुकथा-02/डॉ. जितेन्द्र ‘जीतू’ (25)   

कथा कहानी (कहानियाँ)

शिउली : लक्ष्मी रानी लाल (28)
वो चेहरा : ज्योत्सना कपिल (33)

व्यंग्य वाण

शौचालय और हमारा चिंतन : ध्रुव तांती (37) 

कथा प्रवाह-1 (लघुकथाएँ)  

पारस दासोत (39)
मधुदीप (40)
प्रताप सिंह सोढ़ी (41)
हरनाम शर्मा (42)

अनवरत-2 (काव्य रचनाएँ)  

सीताराम गुप्ता (43) 
आचार्य भगवत दुबे (44)
अमरेन्द्र सुमन (45) 
रामेश्वर दयाल शर्मा ‘दयाल’ (46)
नरेश राजवंशी (47) 

कथा प्रवाह-2 (लघुकथाएँ)  

मनीष कुमार सिंह (48)
विभा रश्मि (49)
कमल कपूर (50)
सुदर्शन रत्नाकर/ओमप्रकाश बजाज (51)
गार्गीशरण मिश्र ‘मराल’ (52)
राम निवास बाँयला/कमलेश चौरसिया (53)

सरोकार

यथार्थ दुनिया का एक व्यावहारिक सत्य : डॉ. उमेश महादोषी (54) 

लघुकथा : अगली पीढ़ी (लघुकथाएँ)  

सुवेश यादव (58)
नीलिमा शर्मा/कुणाल शर्मा  (59)
जगदीश राय कुलरियाँ (60) 
मुन्नूलाल/शोभना श्याम (61)

किताबें (संक्षिप्त समीक्षाएँ)
वैविध्य और भाषा का अनूठा संगम : डॉ. सतीश दुबे के हाइकु संग्रह ‘सात सौ सत्रह हाइकु मंत्रम्’ की डॉ. बुला कार द्वारा समीक्षा (63)

स्तम्भ 
माइक पर : उमेश महादोषी का संपादकीय (आवरण 2)
आजीवन सदस्य (27, 36 व 38)
गतिविधियाँ (65)
प्राप्ति स्वीकार (68, 32 व 62)
सूचनाएँ (17, 24, व अंतिम आवरण)

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें