आपका परिचय

सोमवार, 30 अप्रैल 2018

अविराम विस्तारित

अविराम  ब्लॉग संकलन,  वर्ष  :  7,   अंक  :  07-08,  मार्च-अप्रैल 2018 



।।हाइकु।।


सुरेश उजाला




हाइकु 

01.

खत्म सुगन्ध
साँस-साँस में व्याप्त
विषाक्त गंध

02.

आज का सच
झूठ की आकृतियाँ
रचता व्यक्ति

03.

भावों नें चूमे
गीत-ग़ज़ल बन
शब्दों के होंठ

04.

आये क्या दिन
वक्त ने चुभो दिये
सैकड़ों पिन

05.

आये न हाथ

छायाचित्र : उमेश महादोषी  
परछाईं मगर
निभाये साथ

06.

प्यार का अर्थ
जान गये तो ठीक
वरना व्यर्थ

07.

सपना टूटा
जीवन का सच भी
निकला झूठा

  • 108-तकरोही, पं. दीनदयालपुरम मार्ग, इन्दिरा नगर, लखनऊ (उ.प्र.)/मोबाइल : 09451144480

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें